kpn24 (12)

हमारी अर्थव्यवस्था में प्रगति हो रही है : राजन

kpn24 (12)मुंबई : भारतीय रिजर्व बैंक ने मंगलवार को मौद्रिक नीति समीक्षा में मुख्य ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया । आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने मौजूदा वित्तीय वर्ष की पांचवीं मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्याज दरों में कोई बदलाव न करने का ऐलान किया । इसके तहत रेपो दर को बिना किसी बदलाव के 6.75 प्रतिशत पर बरकरार रखा गया ।

रिवर्स रेपो दर भी बिना किसी बदलाव के 5.75 प्रतिशत पर बरकरार रही । नकद आरक्षित अनुपात में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है और यह चार प्रतिशत पर कायम है ।

रेपो दर वह दर होती है, जिस पर रिजर्व बैंक वाणिज्यिक बैंकों को अल्प अवधि के लिए ऋण देता है, जबकि रिवर्स रेपो दर वह दर होती है, जो रिजर्व बैंक वाणिज्यिक बैंकों को लघु अवधि के लिए जमा राशि पर ब्याज के रूप में देता है ।

इसके साथ ही सांविधिक तरलता अनुपात में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है ।

आरबीआई ने वर्ष 2015-16 के लिए विकास दर का अनुमान 7.4 प्रतिशत पर कायम रखा है ।

बैंक ने साथ ही कहा कि जनवरी 2016 के लिए छह फीसदी महंगाई दर का लक्ष्य भी हासिल करने के दायरे में है और यह उससे कम भी रह सकती है ।

राजन ने आर्थिक स्थिति पर टिप्पणी करते हुए कहा, “हम एक ऐसी अर्थव्यवस्था को देख रहे हैं, जो दुरुस्त है और उसमें प्रगति हो रही है, लेकिन कुछ क्षेत्रों में चिंता भी बनी हुई है ।”

उन्होंने कहा कि जनवरी के बाद से रिजर्व बैंक ने रेपो दर में 125 आधार अंकों की कटौती की है और इसका आधा से भी कम वाणिज्यिक बैंकों द्वारा ग्राहकों को स्थानांतरित किया गया है ।

राजन ने कहा, “औसत आधार ऋण दर में सिर्फ 60 आधार अंकों की कटौती की गई है ।”

राजन ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि मौद्रिक नीति में सख्ती लाने की कोई योजना नहीं है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *