,learn sanjay what it can be dropped from the jail

जानें संजय ने ऐसा क्या किया जिससे उन्हें जेल से छोड़ा जा सकता है

नई दिल्ली : मुंबई में 1993 के धमाकों से जुड़े मामले में जेल में बंद बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त 7 march को जेल से छूट सकते हैं । संजय गैरकानूनी तरीके से हथियार रखने के मामले में पांच साल की सजा काट रहे हैं ।

,learn sanjay what it can be dropped from the jail
,learn sanjay what it can be dropped from the jail

सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, अंतिम समय में अगर कोई दिक्कत नहीं होती है, तो फिर एक्टर 42 महीने की बाकी की सजा पूरी होने के बाद 7 march को यरवदा जेल से छूट जाएंगे । अभिनेता 18 माह की सजा पहले ही काट चुके हैं । सुप्रीम कोर्ट ने march 2013 में संजय को टाडा के तहत आतंक के आरोप से तो बरी कर दिया था, लेकिन गैरकानूनी ढंग से हथियार रखने के मामले में दोषी करार दिया था ।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, अच्छे चाल-चलन की वजह से संजय दत्त की सजा छह महीने कम की जा रही है । जेल सूत्रों का कहना है कि अच्छे व्यवहार के कारण उन्हें हर महीने सात दिन तक की छुट्टी मिल सकती है । लेकिन आखिरी फैसला जेल अधिकारियों को ही लेना होगा । इसी पर निर्भर होगा कि वह 7 march को रिहा होंगे या नहीं ।

उच्च न्यायालय के आदेश के बाद, उनकी जमानत रद्द हो गई । संजय ने 16 may 2013 को आत्मसमर्पण किया और उन्हें आर्थर रोड सेंट्रल जेल में रखा गया । एक हफ्ते बाद ही उन्हें पुणे की यरवदा सेंट्रल जेल भेज दिया गया । हालांकि जेल में अच्छे व्यवहार की वजह से एक्टर की टाइम से पहले ही रिहाई की मांग भी उठती रही है ।

आम कैदियों से अलग, संजय को कई बार पैरोल या फर्लो मिलने पर सवाल उठते रहे हैं । हर कैदी को हर साल 14 दिन की फर्लो मिलती है, जबकि पैरोल जेल अधिकारियों के विशेषाधिकार पर निर्भर करता है ।

अगस्त 2015
संजय दत्त अपनी बेटी की नाक की सर्जरी को लेकर 1 महीने के पैरोल पर बाहर आए थे । इस फैसले को लेकर काफी लोगों ने विवाद भी किया था ।

दिसंबर 2014
अभिनेता तब 14 दिन की फर्लो पर बाहर आए थे, उनकी 14 दिन और छुट्टी बढ़ाने की मांग को रद्द कर दिया गया था ।

दिसंबर 2013
बीवी मान्यता के टीबी होने पर संजय को 28 दिन की पैरोल मिली थी । बाद में इसे 28 दिन और बढ़ा दिया गया ।

अक्टूबर 2013
संजय दत्त को 14 दिन की फर्लो मिली, जिसे उनके पैरों में दर्द के कारण 14 दिन और बढ़ा दिया गया ।

00

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *