Are not CPI leader AB Promotion!

नहीं रहे भाकपा नेता ए.बी. बर्धन !

नई दिल्ली | भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के वयोवृद्ध नेता ए.बी. बर्धन का यहां शनिवार को एक अस्पताल में निधन हो गया। वह 92 वर्ष के थे। जी.बी. पंत अस्पताल के एक चिकित्सक डॉ. विनोद ने कहा, “भाकपा नेता ने रात 8.20 बजे अंतिम सांस ली। हमारी टीम ने उन्हें बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनकी हालत बहुत नाजुक थी।”

 Are not CPI leader AB Promotion!
                                                                         Are not CPI leader AB Promotion!

बर्धन को सात दिसंबर को लकवे का दौरा पड़ा था और उसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बर्धन के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट किया, “ए. बी. बर्धन हमेशा एक प्रतिबद्ध साम्यवादी नेता और अपनी विचारधारा और सिद्धांतों के प्रति पूर्णत: समर्पित व्यक्ति के तौर पर याद आएंगे। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।”

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी शोक व्यक्त किया।

सोनिया ने कहा, “ए.बी. बर्धन के निधन के साथ सिर्फ भाकपा ही नहीं, बल्कि पूरे देश ने अपना नेता खो दिया, जिन्होंने पूरी जिंदगी वंचितों और हाशिए के लोगों के लिए लड़ाई लड़ी।”

बर्धन के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया, “भाकपा के वरिष्ठ नेता ए. बी. बर्धन के निधन के बारे में सुनकर गहरा दुख हुआ। श्रमिक आंदोलनों में वह हमेशा नेतृत्वकर्ता रहे और उन्होंने हमेशा गरीबों के लिए आवाज उठाई।”

भाकपा के राष्ट्रीय सचिव डी. राजा ने कहा, “यह सिर्फ भाकपा के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश के साम्यवादी आंदोलन आंदोलन के लिए गंभीर क्षति है।”

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर अपना शोक प्रकट किया।

उन्होंने ट्वीट किया, “भाकपा नेता और श्रमिक आंदोलनों के अगुवा ए. बी. बर्धन का निधन हो गया। उनके साथ बनी नजदीकी और गहरी मित्रता हमेशा याद आएगी। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।”

संसदीय कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने ट्वीट किया, “भाकपा नेता ए.बी. बर्धन का निधन भारतीय राजनीति के लिए भारी क्षति है। उनके परिवार वालों और हितैषियों के प्रति मेरी सहानुभूति है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *