again mumbai win ranji trophy

एक बार फिर मुम्बई ने रणजी ट्रॉफी जीती

पुणे : मुंबई क्रिकेट टीम ने रणजी ट्रॉफी के फाइनल में सौराष्ट्र को हारकर 41वीं बार खिताब पर कब्जा जमा लिया है । मुंबई ने महाराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले गए फाइनल मैच में शुक्रवार को तीसरे दिन ही सौराष्ट्र को पारी और 21 रनों से शिकस्त देकर खिताब पर कब्जा जमाया । मुंबई के गेंदबाजों ने जीत में अहम भूमिका निभाई । मुंबई ने सौराष्ट्र पर पहली पारी के आधार पर 135 रनों की बढ़त बना ली थी । इसके बाद मुंबई के गेंदबाजों ने सौराष्ट्र के बल्लेबाजों को टिकने नहीं दिया और पूरी टीम को 115 रनों पर ढेर कर पारी और 21 रनों से जीत हासिल की ।

again mumbai win ranji trophy
                                                                    again mumbai win ranji trophy

मुंबई की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट शार्दुल ठाकुर ने लिए । उन्होंने पांच बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा । मुंबई की पहली पारी में शतक लगाने वाले श्रेयस अय्यर को मैन ऑफ द मैच चुना गया ।

अपने दूसरे दिन के स्कोर आठ विकेट पर 262 रनों से आगे खेलने उतरी मुंबई की टीम से तीसरे दिन ज्यादा देर मैदान पर टिकने की उम्मीद नहीं थी । लेकिन सिद्देश लाड (88) ने बलिंदर संधू (नाबाद 34) के साथ दसवें विकेट के लिए 103 रनों की साझेदारी कर टीम को 135 रनों की बढ़त दिला दी ।

इससे पहले इकबाल अब्दुल्ला (15) के रूप में टीम अपना दिन का पहला विकेट खो चुकी थी । दसवें विकेट के लिए लाड और संधू ने महत्वपूर्ण साझेदारी कर टीम को सम्मानजनक स्थिति में पहुंचाया |  लाड़ टीम की तरफ से आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज थे । लाड के साथ ही पूरी टीम 371 रनों पर पवेलियन लौट गई । लाड ने अपनी पारी में 101 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके और पांच छक्के लगाए ।

अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी सौराष्ट्र के बल्लेबाज मुंबई के गेंदबाजों का सामना नहीं कर पाए । टीम का स्कोर जब 13 रन था तभी संधू ने अवि बारोट (4) को पेवलियन भेजा ।  इसके बाद लगातार अंतराल पर विकेट गिरते रहे और टीम 48.2 ओवर में 115 रन पर ढेर हो कर मैच गंवा बैठी ।

सौराष्ट्र की तरफ से सबसे ज्यादा 27 रन चेतेश्वर पुजारा ने बनाए । उनके अलावा कप्तान जयदेव शाह 17 रनों का योगदान दे सके । टीम की तरफ से सबसे बड़ी साझेदारी चौथे विकेट के लिए पुजारा और शेल्डन जैक्सन (13) के बीच 24 रनों की हुई ।

मुंबई की तरफ से ठाकुर के अलावा धवल कुलकर्णी और संधू ने दो-दो विकेट लिए । अभिषेक नायर को एक विकेट मिला ।

41 रणजी ट्रॉफी फाइनल जीत में से मुंबई की यह 10वीं पारी से जीत है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *