Chinese woman to sue Malaysia Airlines

चीन कि महिला ने किया मलेशियाई एयरलाइन पर मुकदमा

कुआलालंपुर | चीन की एक महिला ने एमएच 370 विमान के लापता हो जाने के मामले में मलेशियाई एयरलाइन प्रणाली बीएचडी (एमएएस) पर लापरवाही और अनुबंध के उल्लंघन का मुकदमा दायर किया है। महिला ने हर्जाने की मांग की है। सूत्रों के अनुसार, लापता हुए एमएच 370 विमान के यात्री दिवंगत एस. पुष्पनाथन की पत्नी के. श्री देवी (32) ने एमएएस पर मुकदमा दायर किया है।

Chinese woman to sue Malaysia Airlines
                                                    Chinese woman to sue Malaysia Airlines

पुष्पनाथन आठ मार्च, 2014 को कुआलालंपुर से बीजिंग के लिए रवाना हुए एमएच 370 विमान में सवार थे। यह विमान लापता हो गया था और इसका आज तक पता नहीं चल सका है।

श्री देवी ने अपने पति की मौत के कारण हुए तमाम तरह के नुकसानों के लिए 7,23,000 डॉलर की मांग की है।

उन्होंने गुरुवार को उच्च न्यायालय में मुकदमा दायर किया।

श्री देवी के वकील शैलेंद्र ने कहा, “हम जल्द से जल्द सभी प्रतिवादियों को वाद पत्र देने जा रहे हैं।”

शैलेंद्र ने कहा, “मेरे मुवक्किल को उनके प्रश्नों के उत्तर नहीं मिल रहे हैं। इसीलिए उनके पास मुकदमा दायर करने के अलावा कोई रास्ता नहीं है।”

अंतर्राष्ट्रीय समझौतों के तहत विमान हादसे के पीड़ितों के परिवारों के पास मुकदमा दायर करने के लिए दो वर्ष का समय होता है।

इस दुर्घटना से हुई क्षति का भुगतान जर्मनी स्थित बीमा कंपनी एलियांज द्वारा किया जाना है। इससे एयरलाइंस की वित्तीय स्थिती पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

अंतर्राष्ट्रीय समझौतों के तहत मुआवजे के तौर पर पीड़ितों के परिवारों को स्वत: ही करीब 160,000 डॉलर प्रति यात्री प्रदान किया जा रहा है।

इस बीच, मलेशिया के परिवहन मंत्री दातुक सेरी लियोव तियोंग लाई ने कहा कि एमएच 370 के पीड़ितों के परिजनों का पास सात मार्च तक का वक्त है। इस तिथि तक उन्हें यह तय करना होगा कि वे मुआवजे की राशि स्वीकार करना चाहते हैं या इस घटना के सिलसिले में मुकदमा दायर करना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *