Russia's coal mine explosion killed 26 miners in trouble

रूस के कोयला खदान में विस्फोट , 26 खदानकर्मियों की जान मुसीबत में

मॉस्को | रूस के कोमी गणराज्य में कोयला खदान में हुए विस्फोट में कम से कम 26 खदानकर्मियों के मारे जाने की आशंका है। देश के आपातकालीन मामलों के मंत्रालय ने रविवार को यह जानकारी दी और बताया कि खदान में दबे किसी भी व्यक्ति के जीवित बचे होने की संभावना नहीं है। सूत्रों के मुताबिक, सेवेरनया खदान का संचालन करने वाले वॉर्कुतौगल माइनिंग कॉरपोरेशन के तकनीकी निदेशक डेनिस पइकिन ने कहा कि वर्तमान स्थिति के आकलन से यही समझ में आ रहा है कि खदान में फंसे लोगों के जीवित होने की उम्मीद नहीं है।

Russia's coal mine explosion killed 26 miners in trouble
                                       Russia’s coal mine explosion killed 26 miners in trouble

सेवेरनया खदान में गुरुवार को हुए मिथेन गैस विस्फोट के कारण दो विस्फोट हु़ए और चट्टान ढह गई जिसके बाद आग लग गई।

पहले विस्फोट के कारण खदान के भीतर मौजूद 111 कोयला खदानकर्मियों में से चार मारे गए, जबकि 26 अन्य फंस गए।

तीसरा विस्फोट जांच और बचाव अभियान के दौरान रविवार तड़के हुआ जिसमें पांच बचावकर्मी और एक खदानकर्मी मारे गए।

रूस के आपातकालीन मामलों के मंत्री व्लादिमिर पुखोव के मुताबिक, तीसरे विस्फोट से स्थिति और बिगड़ गई।

पुखोव ने कहा, “आंकड़े दर्शा रहे हैं कि 26 खदानकर्मी खदान के भीतर जिस स्थान में थे, वहां तापमान बेहद ज्यादा है और ऑक्सीजन नहीं है। यह स्थान तीसरे विस्फोट का केंद्र था। खदान के प्रभावित क्षेत्र की परिस्थितियां ऐसी हैं जहां कोई जीवित नहीं रह सकता। ”

तीसरे धमाके के बाद विशेषज्ञों ने खदान में और विस्फोट होने की संभावना जताई थी जिसके बाद बचाव कार्य तत्काल रोक दिया गया।

पुखोव ने तीसरे धमाके के बाद विशेषज्ञों और तकनीशियनों को कोयला खदान की स्थिति का आकलन करते हुए एक नई रपट तैयार करने का निर्देश दिया।

मंत्रालय के मुताबिक, मिथेन के कारण खदान में सिलसिलेवार विस्फोट हुए हैं।

कोमी रिपब्लिक ने रविवार को विस्फोट में मारे गए लोगों की याद में तीन दिन के शोक की घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *