Kanhaiya 's tongue to cut off " at the behest of the commotion in the assembly

कन्हैया की ‘जुबान काट लाने’ के फरमान पर विधानसभा में हंगामा

लखनऊ । उत्तर प्रदेश विधानसभा में शनिवार को कांग्रेस ने जेएनयू छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की जुबान काटकर लाने वाले को पांच लाख रुपये इनाम देने के भाजयुमो के बदायूं जिलाध्यक्ष के ऐलान पर जोरदार हंगामा किया और सरकार से तुरंत कार्रवाई करने की मांग की।

 Kanhaiya 's tongue to cut off " at the behest of the commotion in the assembly
                 Kanhaiya ‘s tongue to cut off ” at the behest of the commotion in the assembly

भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष कुलदीप वाष्र्णेय ने शनिवार को बदायूं में मीडिया के सामने कहा कि जो कोई जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार की जीभ काटकर लाएगा, उसे वह पांच लाख रुपये का इनाम देंगे।

सदन में कांग्रेस ने इस मामले में सरकार द्वारा कोई कार्रवाई न किए जाने पर आपत्ति उठाई। सरकार ने सदन को आश्वस्त किया कि इस मामले में जो हो सकेगा, किया जाएगा।

सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस के सदस्य ने हंगामा करना शुरू कर दिया। कुछ देर बार विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय से मिली अनुमति पर कांग्रेस सदस्य पंकज मलिक ने कहा कि बदायूं में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष ने कन्हैया कुमार की जुबान काटकर लाने वाले को इनाम देने का ऐलान किया है, जो घोर आपत्तिजनक और निंदनीय है।

मलिक ने कहा कि जुबान काटकर लाने जैसा फरमान जारी कर सांप्रदायिक लोग समाज में दुर्भावना फैला रहे हैं। सरकार भाजयुमो नेता के खिलाफ तुरंत कार्रवाई का आदेश दे।

संसदीय कार्यमंत्री मो. आजम खां ने कहा कि परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि कुछ लोगों के पास प्यार और विकास का एजेंडा नहीं है, वह ऐसी बातें कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, “बात हमसे शुरू हुई थी। अहमद अली ही खतरे में थे और अब कन्हैया खतरे में हैं। लेकिन कंस न होते तो कन्हैया न होते।”

आजम ने कहा, “हम भी प्रधानमंत्री से अपील करते कि कन्हैया को बचा लीजिए। आजकल देश के हालात तो ऐसे हो गए है कि मुंह मत खोलिए, वरना जुबान हाथ में आ जाएगी।”

उन्होंने सदन को आश्वस्त किया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए उचित कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *